tadap shayari| milne ki tadap shayari hindi

in this post best 2022 tadap shayari, milne ki tadap shayari, milne ki tadap shayari hindi, tadap shayari in hindi, yaad ki tadap shayari, shayari tadap, tadap ki shayari, ishq ki tadap shayari, dil ki tadap shayari hindi, tadap shayari for girlfriend with download best tadap shayari image. free download tadap shayari imag

tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi
ये मत समझ कि तेरे काबिल नहीं हैं हम
तड़प रहे हैं वो जिसे हासिल नहीं हैं हम
बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा लगती है
यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है
तड़प उठती हूँ दर्द के मारे
ज़ख्मों को जब तेरे शहर की हवा लगती है
अगर उम्मीद ए वफ़ा करूँ तो किस से करूँ
मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi

milne ki tadap shayari

दर्द रुकता नहीं एक पल भी
इश्क की यह सजा मिल रही है
मौत से पहले ही मर गए हम
चोट नजरों की ऐसी लगी है

 

जो लड़की फूलो के बिस्तर पर सोय
बो काटो का दर्द क्या जाने
जो लडक़ी हजार लड़को से मोहब्बत बयां कर
बो लड़की एक लड़के की मोहब्बत का दर्द क्या जाने
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi
दिल की ख्वाइश पूरी हो गई है
दिल की जरूरत पूरी हो गई है
नजर की छाइयां बाकी है
दिल की तमन्ना है बाकी है

 

दर्द रुकता नहीं एक पल भी
इश्क की यह सजा मिल रही है
मौत से पहले ही मर गए हम
चोट नजरों की ऐसी लगी है
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi

 

आएंगे तेरी गली में चाहे देर क्यों ना हो जाए
करूंगा मोहब्बत तुझसे ही भले देर क्यों ना हो जाए
tadap shayari
tadap shayari
गुज़रे है आज इश्‍क के उस मुकाम से नफरत सी हो गयी है मोहब्बत के नाम से 

 

आंखे मिलाकर उनसे! हम तड़प के बैठें हैं
वो हमें देखकर भी! पलट के बैठें हैं

 

मुझे बुलाने वाले कभी फुर्सत से बैठना
और सोचना की क्या कसूर था हमारा

 

tadap shayari
tadap shayari
हमारे सीने में दिल नहीं जिगर है
जनाब और जिगर कभी टूटता नहीं

 

yaad ki tadap shayari

बड़े किरदार है
जिंदगी में साहब
समय समय पर
सब के भाव बड़
जाते है
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi
तुमने कहां था हर शाम हाल पुछा करेंगे
बदल गये हो या तुम्हारे यहां शाम नहीं होती

 

मुझे दिल से भुलाने वाले कभी फुर्सत से बैठना फिर सोचना मेरा कसूर क्या था!…[/su note]

 

हा हम बुरे जाओ
अच्छे की तलाश करलो

 

दिल की ख्वाइश पूरी हो गई है
दिल की जरूरत पूरी हो गई है
नजर की छाइयां बाकी है
दिल की तमन्ना है बाकी है
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi
उतर गए हैं सब दिल से
अब बस अकेले रहना अच्छा लगता है

 

मत मिलाओ मेरी नजरों से नजरें वरना मैं तुम्हें बर्बाद कर दूंगा
यू भीगी निगाहों से मत देखो मेरी और वरना मैं तुम्हें फिर से गले लगा दूंगा

 

इश्क है मोहतरमा खुलकर कहिए हम अनपढ़ लोग हैं
ट्रैफिक सिग्नल के नियम भी पूरी तरह नहीं समझते हैं
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi
वो भी तड़प ना जाये तो इस इश्क़ पे लानत…
बस मुझसे एक बार निग़ाह मिलाने की देर है.

 

तड़प तड़प कर ग़म चिल्ला रहा था बहुत
उसको इक ऐसी हँसी दी की चुप हो गया
tadap shayari
tadap shayari

tadap shayari in hindi

तड़प कर इस तरह लिपटे थे दोनों
ग़म इक से दूसरे में आ गया था

 

तड़प कर गुजर जाएगी यह रात भी आखिर
तुम याद नहीं करोगे तो क्या सुबह नहीं होगी

 

तड़प कर दिल मेरा मुझसे कहने लगा…
ना होता मैं ना तुम बर्बाद होते
milne ki tadap shayari
milne ki tadap shayari

 

तड़प ही देखनी है गर किसी को तो आओ अहसास मै कराता हूँ
तुम्हारे महबूब को कुछ पल के लिए गले किसी ओर के लगाता हूँ

 

क्या बात ऐ दिले खुद्दार करें है
तड़पे है मगर दर्द से इन्कार करें है

 

तड़प के देखो किसी की चाहत में
तो पता चले कि इंतज़ार क्या होता है

milne ki tadap shayari

यूँ ही मिल जाये अगर कोई बिना तड़पे
तो कैसे पता चले के प्यार क्या होता है

 

सोये हुए थे सुकून से अचानक तड़प उठे …
यूँ आकर तेरे ख्याल ने अच्छा नहीं किया

 

तड़प उठूं भी तो ज़ालिम तेरी दुहाई न दूँ
मैं ज़ख्म ज़ख्म हूँ फिर भी तुझे दिखाई न दूँ
तेरे बदन में धड़कने लगा हूँ मैं दिल की तरह
ये और बात अब भी तुझे सुनाई न दूँ

milne ki tadap shayari

जो तड़प तेरी खातिर है मुझे उसे इश्क ही कहते हैं…
एसा मुहब्बत की किताबों में
पढा है मैने

 

सोये हुए थे सुकून से अचानक तड़प उठे …
यूँ आकर तेरे ख्याल ने अच्छा नहीं किया

 

ishq ki tadap shayari
तड़प उठूं भी तो ज़ालिम तेरी दुहाई न दूँ
मैं ज़ख्म ज़ख्म हूँ फिर भी तुझे दिखाई न दूँ
तेरे बदन में धड़कने लगा हूँ मैं दिल की तरह
ये और बात अब भी तुझे सुनाई न दूँ

milne ki tadap shayari

जो तड़प तेरी खातिर है मुझे उसे इश्क ही कहते हैं…
एसा मुहब्बत की किताबों में
पढा है मैने

 

गुज़रे है आज इश्‍क के उस मुकाम से
नफरत सी हो गयी है मोहब्बत के नाम से

 

आज आसमान में बढ़ा नूर है
चांद को भी खुद पर गुरुर है
हम किस पर गुरूर करें जनाब
हमारा तो चांद ही हमसे दूर है
tadap shayari
tadap shayari
रिश्ता नहीं रखना तो हम पर नज़र क्यों रखते हो
जिन्दा हैं या मर गए तुम ये खबर क्यों रखते हो

 

मत करना इश्क बहुत झमेले हैं
हंसते तो साथ है मगर रोते अकेले हैं

 

उल्फत में अक्सर ऐसा होता है
आँखे हंसती हैं और दिल रोता है
मानते हो तुम जिसे मंजिल अपनी
हमसफर उनका कोई और होता है
milne ki tadap shayari
tadap shayari
इश्क का बँटवारा रज़ामंदी से किया
वफा वो ले गया तड़प हम ले आए..

 

वसीम उसकी तड़प हैं तो उसके पास चलो
कभी कुआँ किसी प्यासे के घर नहीं जाता

 

माना कि मिट जाएगी हस्ती एक दिन हमारी
पर यह रुह तड़प कर तेरा ही नाम लेगी
तू लाख इंकार कर मोहब्बत से मेरी
पर यह दुनिया तेरे ही सिर इल्जाम देगी

tadap shayari

dil ki tadap shayari hindi
वापस दे दो वो सारे दर्द तड़प और आंसू
गुनाह किया है मैंने इन सब मे हक़ है मेरा

 

आंखे मिलाकर उनसे हम तड़प कर बैठे है’
वो हमें देखकर भी पलट कर बैठे हैं

 

तड़प बेचैनी मदहोशी का तूफ़ान कहर बरपायेगा
होगा अब यलगार-ए-इश्क शोर दूर तलक जायेगा.
tadap shayari in hindi
tadap shayari in hindi
इश्क की तड़प को महसूस करना हो तो
कुछ देर ही सही रेत पर लाकर मछलियाँ रख दो

 

तड़प तो वो भी रही होगी मेरी याद मे
फर्क इतना है उसे शायरी नहीँ आती

 

तेरे दीदार का नशा भी अजीब हैं ..
तू ना दिखे तो दिल तड़पता हैं ..
और .. तू दिखे हैं तो .
नशा और चढ़ता हैं

 

More Shayari.

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share shayari

SHORT LINKS