सच्ची मोहब्बत शायरी- Love Shayari गीले शिकवे ज़रूरी है अगर सच्ची मोहबब्त है

गीले शिकवे ज़रूरी है अगर सच्ची मोहबब्त है, geele shikave zarooree hai agar sachchee Mohabbat hai jahaan paanee bahut gahara ho thodee kaee rahatee hai.

सच्ची मोहब्बत शायरी 2 लाइन

सच्ची मोहब्बत शायरी
मोहब्बत शायरी

गीले शिकवे ज़रूरी है अगर सच्ची मोहबब्त है जहाँ पानी बहुत गहरा हो थोड़ी काई रहती है।

Leave a Comment